पूजा

See also पूजणें
ना.  अर्चा , आदर , आराधना , पूजन , भक्ती , सत्कार , सन्मान ;
ना.  अपमान , खरडपट्टी , खरमरीत कान उघडणी , तासडपट्टी , बोडंती , हजामत .
See पूजणें and पूजा.

Related Words

पूजा   खेटरांनी पूजा करणें-बांधणें   शेंदरें माखियेला धोंडा, पूजा करितीं पोरें रांडा   महारांचे देवास फटकुरांची पूजा   लंड देवा, भंड पूजा   चांभारां देवाक होणां पूजा   पूजा करणें-घालणें   सजीव-सजीव तुळशी तोडा, पूजा म्हणती निर्जीव दगडा   पूजा बांधणे   शिवाची पूजा   बारा म्हशी धुवीन पण देवाची पूजा करणार नाहीं   स्वतः-स्वतःची स्वतः पूजा करणें   यथेच्छ (पूजा करणें-झोडपणें इ.)   पूजा देणें   देव तशी पूजा आणि संगत तशी वागणूक   चांभाराच्या देवाला खेटरांची पूजा   अकरा देव आणि उतावळीची पूजा   उलटी पूजा करणें   निजेवांचून (शिवाय) पूजा नाहीं   चांभाराच्या देवास खेटराची पूजा   सोमेश्र्वराला नागवला आणि रामेश्र्वराची पूजा केली, बांधली   चांभाराच्या देवाला खेटराची पूजा   वासना मरे, देव पूजा करे   घरचे देवाक पूजा ना, बाहेरचा देवाक नैवेद्यु   चुलीची आराधना पूजा   बेल ना पत्री, पूजा करायले निघाली चत्री   उलटी पूजा   अकरा देव आणि उतावळीची पूजा   उलटी पूजा   उलटी पूजा करणें   खेटरांनी पूजा करणें-बांधणें   घरचे देवाक पूजा ना, बाहेरचा देवाक नैवेद्यु   चुलीची आराधना पूजा   चांभाराच्या देवाला खेटराची पूजा   चांभाराच्या देवाला खेटरांची पूजा   चांभाराच्या देवास खेटराची पूजा   चांभारां देवाक होणां पूजा   देव तशी पूजा आणि संगत तशी वागणूक   निजेवांचून (शिवाय) पूजा नाहीं   पूजा करणें-घालणें   पूजा देणें   पूजा बांधणे   बेल ना पत्री, पूजा करायले निघाली चत्री   बारा म्हशी धुवीन पण देवाची पूजा करणार नाहीं   महारांचे देवास फटकुरांची पूजा   यथेच्छ (पूजा करणें-झोडपणें इ.)   लंड देवा, भंड पूजा   वासना मरे, देव पूजा करे   शेंदरें माखियेला धोंडा, पूजा करितीं पोरें रांडा   शिवाची पूजा   सजीव-सजीव तुळशी तोडा, पूजा म्हणती निर्जीव दगडा   स्वतः-स्वतःची स्वतः पूजा करणें   सोमेश्र्वराला नागवला आणि रामेश्र्वराची पूजा केली, बांधली   
: Folder : Page : Word/Phrase : Person
  |  
  • पूजा एवं विधी
    ईश्वर की कॄपा तथा दया प्राप्त करनेके लिए नित्य पूजा विधी करनी चाहिये, क्योंकी पूजा का अध्यात्म तथा धर्म से गहरा संबंध है । 
  • दीपावली की पूजा - गौवत्स द्वादशी
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • गौवत्स द्वादशी - महत्व
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • गौवत्स द्वादशी - व्रत-कथा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • गौवत्स द्वादशी - गोत्रिरात्र व्रत
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • दीपावली की पूजा - रूपचतुर्दशी
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • रूपचतुर्दशी - महत्व
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • रूपचतुर्दशी - उबटन से स्नान
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • रूपचतुर्दशी - हनूमानुत्सव
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • दीपावली की पूजा - लक्ष्मीपूजन श्रीसूक्तसे
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - प्रथम पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - द्वितीय पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - तृतीय पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - चतुर्थ पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - पंचम पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - आरती तथा समर्पण
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • दीपावली की पूजा - लक्ष्मीपूजन
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • लक्ष्मीपूजन - सामग्री एवं नियम
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • लक्ष्मीपूजन - विविध पूजन
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • लक्ष्मीपूजन - लक्ष्मी पूजन
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  |  
: Folder : Page : Word/Phrase : Person