विश्वकर्मप्रकाशः - त्रयोदशोऽध्यायः

देवताओंके शिल्पी विश्वकर्माने, देवगणोंके निवासके लिए जो वास्तुशास्त्र रचा, ये वही ’ विश्वकर्मप्रकाश ’ वास्तुशास्त्र है ।


: Folder : Page : Word/Phrase : Person

References : N/A
Last Updated : 2012-01-20T21:37:03.7200000